You don't have javascript enabled. Please Enabled javascript for better performance.

আপোনাৰ অনুভৱেৰে মাতৃলৈ চেনেহৰ উপহাৰ

মাতৃ অবিহনে এই পৃথিৱীত কোনো ব্যক্তিৰ যাত্ৰা সম্পূৰ্ণ হ’ব নোৱাৰে। ...

বিতং তথ্য চাওক বিতং তথ্য গোপন কৰক
অন্তিম তাৰিখ-May 20,2019 16:55 PM IST (GMT +5.30 Hrs)

মাতৃ অবিহনে এই পৃথিৱীত কোনো ব্যক্তিৰ যাত্ৰা সম্পূৰ্ণ হ’ব নোৱাৰে। মাতৃৰ কোলাতে আৰম্ভ হয় জীৱনৰ আদি পাঠশালা। অনেক প্ৰত্যাহ্বান নেওচি জীৱনযাত্ৰাত আগুৱাই যোৱাৰ প্ৰেৰণা যোগায় মাতৃয়ে। সেয়েহে মাতৃস্নেহৰ স্বীকৃতিস্বৰূপে প্ৰতি বছৰে মে’ মাহৰ দ্বিতীয় দেওবাৰটো “আন্তৰ্জাতিক মাতৃ দিৱস” হিচাবে পালন কৰা হয়।
অহা ১২ মে’ মাতৃ দিৱস উপলক্ষে মাতৃৰ স’তে থকা আপোনাৰ স্মৰণীয় মুহূৰ্তবোৰ জনতাৰ চৰকাৰ MyGov Assam ৰ জৰিয়তে শ্বেয়াৰ কৰক।
আপোনাৰ মাতৃলৈ মৰমৰ কৃতজ্ঞতাৰে তেওঁৰ বাবে লিখা এটি গীত, ভিডিঅ’, সৰল মুহুৰ্ত (Candid Moments)-ৰ ফটো , কবিতা অথবা যিকোনো লেখা জনতাৰ চৰকাৰ MyGov Assam লৈ প্ৰেৰণ কৰক।

শ্ৰেষ্ঠ হিচাবে নিৰ্বাচিত সমল জনতাৰ চৰকাৰ MyGov Assam ৰ ছ’চিয়েল মিডিয়া প্লেটফৰ্মসমূহত ব্যৱহাৰ কৰা হ’ব।

অন্তিম তাৰিখ – ২০ মে’, ২০১৯

(লেখা অথবা সমল মৌলিক হোৱাটো বাধ্যতামূলক)

সকলো মন্তব্য
মুঠ অৱদান ( 95) অনুমোদিত অৱদানসমূহ (83) পৰ্যালোচনাৰ বাবে ৰখা অৱদানসমূহ (12)
Reset
83 তথ্য পোৱা গ’ল

hkalp.eng@pondiuni.edu.in 1 hour 55 মিনিট পূৰ্বে

Moments with Mother

Like the early dew drops
Images of mother too drip by
She is no more but she lives in me
Through her lovely acts.

Her passion for music
Kindled in me the sense of harmony,
Her love for children
Sparked my love towards the young,
Her empathy to animals
Provided me succor to love big and small,
Her helping nature to young and old
Opened doors of kindness in me.

My mother’s wittiness and garrulousness
Created bonds for ever,
My mother’s goodness and simplicity
Endeared her

Kunal kumar 15 হিচাপ 24 মিনিট পূৰ্বে

माँ तू मेरे दिल की सबसे बड़ी अरमान है
तू मेरी दुनिया है, जहाँ है, शान है, सम्मान है

और तेरे बिना हम क्या हैं यह कल्पना भी नहीं कर सकते,

मैं तो बस इतना कहूँगा कि मेरे लिए भगवान है।

Kunal kumar 15 হিচাপ 27 মিনিট পূৰ্বে

माँ तू मेरे दिल की सबसे बड़ी अरमान है
तू मेरी दुनिया है,जहाँ है,शान है, सम्मान है

और तेरे बिना हम क्या हैं ये कल्पना भी नही कर सकते,

मैं तो बस इतना कहूँगा तू मेरे लिए भगवान है।

HiTeSh ThaKkaR 16 হিচাপ 6 মিনিট পূৰ্বে

माँ शब्द ही प्यारा हैं, देखो कितना न्यारा हैं।
माँ बच्चों को प्यारा हैं, देखो कितना दुलारा हैं।
मत पूछो माँ किनकी नहीं हैं, वो तो किसी से अलग नहीं हैं।

माँ प्रेम हैं, शक्ति हैं और जगतजननी हैं।
माँ निर्मल हैं, पवित्र हैं, ममता हैं।
माँ के अनेक स्वरुप हैं जिसे संसार धरती माता, गंगा माता और गाय माता के रूप में पूजते हैं।

माँ का आशीर्वाद सफल हैं, देने वाला विजय हैं।
माँ हर मुसीबत की चाबी हैं।
माँ एक प्यारा फूल हैं, ऊंचा इनका मूल हैं।

माँ को जो पुजे वो कभी ना दुजे।

Babulal Sankhla 18 হিচাপ 43 মিনিট পূৰ্বে

माँ
इस धरती पर मुझे लाने को
धरती पर चलना सिखाने को
कितनी तकलीफ उठाई होगी।
फिर भी मेरी सूरत देख देख
माँ तू मुस्काई होगी।
तेरे आँचल में सुलाने को
परियो के सपने दिखाने को
अपनी नींद भी उड़ाई होगी।
फिर भी मेरी सूरत देख देख
माँ तू मुस्काई होगी।
पता नही है मुझे वो अब कुछ
पत्नी के आगोश में आकर
याद मुझे तेरी आई होगी।
फिर भी मेरी सूरत देख देख
माँ तू मुस्काई होगी।
मेरा पुत्र धर्म निभाने की
तुझे चारों धाम कराने की
तोड़ी कसमे,जो खाई होगी।
फिर भी मेरी सूरत देख देख
माँ तू मुस्काई होगी।
बाबू.

Sailendra Babu 22 হিচাপ 11 মিনিট পূৰ্বে

#Maa O Maa....

You embrace like the river everything....

To flow throughout​ the day to merge with the ocean...

Maa O Maa....

You be the melody of sunrise....

To enlighten the spirit...

Maa O Maa.

You be the completeness of life's journey along with the scorching heat of the day....

Maa O Maa...

Just to ensure the fulfilment of our life as the dusk follows with its mist....

Maa O Maa....

You ward off​ all the evil with those evening chants and